गौरक्षा जनजागरण गौरथ भारत यात्रा: देशभर में जगाई जा रही गौरक्षा की आवश्यकता

97

गौरक्षा जनजागरण गौरथ भारत यात्रा: देशभर में जगाई जा रही गौरक्षा की आवश्यकता

पांवटा साहिब में 4 नवम्बर को अवनीत सिंह लंबा एवं सचिन ओबराॅय के साथ श्री सत्यानंद गोधाम गौशाला, बहराल व अन्य गौसेवकों ने भारत गौरक्षा जन जागरण भारत गौरथ यात्रा का स्वागत किया।

इस यात्रा के संयोजक व श्रीराम गौधाम सेवा समीति, ॠषिकेश के संचालक जगदीश भट्ट ने बताया कि गौरक्षा जनजागरण गौरथ भारत यात्रा देश के विभिन्न प्रदेशों में अपने आदर्शों और उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए अपने यात्रा का सफल आयोजन कर रही है। यात्रा के साथ चलने वाले सभी लोग अपने अपने प्रेम और समर्पण से गौरक्षा के महत्व को महसूस कर रहे हैं।

मध्य प्रदेश से शुरू होकर उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के विभिन्न प्रांतों को जाते हुए, गौरक्षा जनजागरण यात्रा ने लोगों को गौरक्षा के महत्व की ओर मोड़ने में सहायक हाथ बढ़ाया है। लुधियाना में इस यात्रा को आयोजित करने के लिए अत्यधिक तैयारी की गई थी, जहां नागरिकों ने इसे भव्य तरीके से स्वागत किया।

यात्रा के संतों और विद्वानों ने गौरक्षा के महत्व पर बल दिया और यह मानवता के लिए आवश्यक है। वे कह रहे हैं कि गाय हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा है, हमारी संस्कृति का हिस्सा है, और हमें उसकी सुरक्षा के लिए एक साथ आना चाहिए।

वही यात्रा आज 5 नवम्बर को यह यात्रा पांवटा साहिब के बहराल स्थित सत्यानंद गौधाम पहुंची तथा उसके बाद यहां से चलकर हरिद्वार चेतन ज्योति आश्रम पहुंचेगी।

यात्रा 6 नवंबर, 2023 को हरिद्वार में समापन होगी, जब लोग न केवल गौरक्षा के प्रति जागरूक होंगे, बल्कि यह भविष्य में भी देश के लोगों को गौरक्षा के प्रति सक्रिय होने के लिए प्रेरित करेगी।

गौरक्षा जनजागरण गौरथ भारत यात्रा का यह सफल आयोजन हमें यह दिखाता है कि गौरक्षा केवल एक कर्म नहीं, बल्कि एक भावना है, एक समर्पण है, और एक आवश्यकता है। यह यात्रा न केवल दर्शकों के लिए है, बल्कि यह एक साजीव संदेश है, जिसे लोग अपने दिलों में ले जाते हैं और जो हमारे समाज में एक महत्वपूर्ण परिवर्तन की ओर साथ बढ़ रहा है।

यह यात्रा न केवल जनमानस को गौरक्षा के महत्व का सही आदान-प्रदान कर रही है, बल्कि यह हमारी संस्कृति के महत्व को सार्थक बनाने में मदद कर रही है, जो हमारे दिलों का हिस्सा है।

इस यात्रा के आगमन के साथ हमारा नारा है – “गौरक्षा हम सबकी जिम्मेदारी है!”

इस यात्रा में श्रीराम गौधाम सेवा समिति के अध्यक्ष श्रीमती उषा देवी एवं मुख्य कार्यक्रम अधिकारी हर्षमनी उनियाल, कार्यक्रम अधिकारी मनीष व्यास ,मार्गदर्शक देवी प्रसाद पैन्यूली एवं डॉ जगतराम भट्ट ,सचिव सुमन डोभाल ,श्रीमती दीक्षा ,श्रीमती सरिता भट्ट , समक्ष सहित अन्य कई गौसेवक यात्रा में साथ चल रहे है।